Tuesday , May 22 2018
Home / Travel Destinations / सेंट हेलेना: इतिहास और नैसर्गिक सुंदरता का संगम
सेंट हेलेना: इतिहास और नैसर्गिक सुंदरता का संगम

सेंट हेलेना: इतिहास और नैसर्गिक सुंदरता का संगम

नेपोलियन ने अपना निर्वासित जीवन दक्षिण अटलांटिक टापू सेंट हेलेना में बिताया था। गत वर्ष पहला हवाई अड्डा खुलने के बाद से यहां पर्यटकों की संख्या कुछ बढने लगी है जो इस टापू के अभी तक खूबसूरत अनछुए हिस्सों का आनंद ले सकते हैं।

कठिन धरातल पर स्थित होने की वजह से सेंट हेलेना के नए खुले हवाई अड्डे पर लैंड करते हुए विमानों में बैठे पर्यटकों को कई बार कुछ झटके सहने पड़ते हैं लेकिन लम्बे वक्त तक केवल समुद्र के रस्ते दुनिया से जुड़े इस खूबसूरत दक्षिण अटलांटिक टापू तक जल्द पहुचने के लिए यह एक छोटी-सी कीमत है।

ब्राजील और अंगोला के मध्य स्थित इस छोटे अलग-थलग ब्रिटिश क्षेत्र पर एक गैस्ट हाउस चलाने वाले डैरेक रिचर्ड्स कहते हैं, “जब आप छुट्टियों पर जाना चष्टे हों तो आप 5 दिन समुद्री जहाज पर गुजारना नहीं चाहेंगे” कुछ  लोग इस टापू को ‘दुनियां का सबसे हट कर स्थान’ मानते हैं।

हवाई अड्डे खुलने के बाद से पर्यटकों की संख्यां में कुछ वृद्धि हुई है। इस टापू का शाही इतिहास और हर ओर बिखरी नैसर्गिक सुंदरता पर्यटकों को लगातार आकर्षित करती है। गत वर्ष अक्तूबर में हवाई अड्डा खुलने के बाद दक्षिण अफ्रीका के जोहान्सबर्ग से चलने वाली एक साप्ताहिक उडान में लगभग 80 पर्यटक हर हफ्ते यहां पहुंचने लगे हैं।

टापू पर ऊंचे पहाड़ तथा ज्वालामुखी से निकली चट्टानें बिखरी दिखाई देती हैं। 1815 में देश निकाला दिए जाने के बाद नेपोलियन बोनापार्ट को बाकी का जीवन गुजारने के लिए यहां भेज दिया गया था क्योंकि उनके लिए यहां से कहीं भाग पाना असम्भव -सा था।

सुहाना मौसम: पर्यटकों के लिए यहां हाईकिंग, समुद्र में नौका से सैर, गोताखोरी, मछली पकड़ने जैसे विभिन्न इंतजाम हैं और सुहाना मौसम (20-24 डिग्री सैल्सियस औसत तापमान) यहां ठहरने को बेहद आरामदायक बना देता है।

पर्यटक आज उस गैस्ट हाऊस को देखना पसंद करते हैं जहां शुरुआत में नेपोलियन रहता था। टापू की राजधानी जेम्सटाऊन के छोटे बंदरगाह से चलने वाली नौकाएं रंग-बिरंगी सर्जन, रॉकफिश तथा मोरे ईल मछलियों के घिरी मूंगा चट्टानों के बीच गोते लगाने के लिए पर्यटकों को लेकर जाती हैं।

वैसे नवम्बर से मार्च के बीच इस टापू पर पर्यटकों के लिए विशेष आकर्षण होता हैं महीन फ्लैंकटन खाने वाली विशाल व्हेल शार्क।

St. Helena island, part of the British Overseas Territory also encompassing Ascension and Tristan da Cunha islands, is a remote volcanic outpost in the South Atlantic Ocean. It’s famous as the place of Napoleon Bonaparte’s exile and death, as commemorated by a now-empty tomb. Climbing destinations include the 699 steps of Jacob’s Ladder and Diana’s Peak, sheltering endemic plant and animal life.

बढ़ रहा है पर्यटन: 1990 से एक ब्रीटिश समुद्री डाक जहाज ‘आर.एम.एस. सेंट हेलेना’ दक्षिण अफ्रीका के केपटाऊन से होते हुए इस टापू को ब्रिटेन तथा बाकी दुनिया के साथ जोड़ता रहा है। दशकों से महीने में एक बार इसी जहाज द्वारा टापू पर खाने-पीने की चीजों से लेकर दवाईयों की आपूर्ति के साथ ही पर्यटक आते रहे हैं। हवाई मार्ग खुल जाने के बाद इस जहाज को फरवरी 2018 में ही सेवा से हटाया गया है। अब एक अन्य समुद्री जहाज केवल सामान लाता है। टापू पर पर्यटन को बढ़ावा देकर ब्रिटिश सरकार पर इसकी निर्भरता कम करने के प्रयास किए जा रहे हैं।

सुविधाओं के विकास के लिए यहां पैसा लगाने के लिए लोगों को प्रोत्साहित किया जा रहा है और हवाई अड्डा खुलने के बाद यहां पैसा लगाने में लोगों की रूचि बढने की अपेक्षा की जा रही है। पर्यटकों की संख्या बढने पर उनके रहने के लिए होटलों तथा रिजॉर्ट्स आदि का निर्माण भी करना होगा। टापू पर एक किला है जो 17वीं शताब्दी में अंग्रेजों द्वारा बनाई गई पहली इमारतों में एक है।

इतिहास: यहां की मुद्रा ‘सेंट हेलेना पौंड’ है और इसका प्रशासन सीधे लंदन स्थित विदेशी और राष्ट्र्मंडल कार्यालय के अधीन है। आदिकारिक भाषा अंग्रेजी है। हालांकि, इसके 4,500 निवासी एक अलग ही लहजे में अंग्रेजी बोलते हैं।

सदियों से इसका संबंध यूरोप के साथ रहा है। 1502 में इसे खोजने के बाद पुर्तगालियों ने 121 वर्ग किलोमीटर में फैले इस इस निर्जन टापू का इस्तेमाल एक आपूर्ति स्थल के रूप में किया। वे टापू पर मवेशी लाए, फलों के पेड़ लगाए तथा पेयजल का भंडारण शुरू किया। अन्य यूरोपीय शक्तियों ने भी टापू के रणनीतिक महत्त्व को समझा और इस पर कब्जे के लिए डच तथा ब्रिटिश में युद्ध भी हुआ। 1657 में ब्रिटिश शाही परिवार ने सेंट हेलेना पर प्रशासन के अधिकार ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कम्पनी को सौंप दिए जिसने यहां दुर्ग बनाए तथा किसानों को बसना शुरू किया।

Check Also

लद्दाख की महिला माऊंटेन गाइड्स

विश्व के सर्वाधिक दर्शनीय स्थल

नए वर्ष की शुरुआत के साथ ही पर्यटन के शौकीन लोगों ने अपने पर्यटन संबंधी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *